۲۰ مرداد ۱۴۰۱ |۱۳ محرم ۱۴۴۴ | Aug 11, 2022
एतेकाफ़

हौज़ा/ अल्लाह सर्वशक्तिमान ने हज़रत आदम से कहा: जो अल्लाह की याद के साथ उपवास की स्थिति में तज़ल्लुल, सत्कार और नमन करे, अपनी पवित्रता और शुद्धता की रक्षा करे, और अपने धन से भिक्षा देता है, तो मेरे पास उसके लिए स्वर्ग के अलावा कोई पुरस्कार नहीं है।

लेखकः मौलाना सैयद मुराद रज़ा रिज़वी

हज़रत आदम ने अल्लाह से पूछा:

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी! ए अल्लाह, तुझे कौन सा दिन और कौन सा समय सबसे प्रिय है? अल्लाह ने आदम से बात करते हुए धीरे से कहा: हे आदम! मेरे लिए सबसे प्रिय दिन और समय 15 रजब है। 15 रजब को उपवास (रौज़ा रखने), प्रार्थना करने (दुआ मांगने), इस्तिग़फ़ार (क्षमा मांगने) और ला इलाहा इल्लल्लाह कहने से मेरे करीब हो जाओ ।

हे आदम, मैंने अंतिम निर्णय कर लिया है कि मैं आपके वंशजों के बीच एक पैगंबर भेजूंगा, जो ना बद मिज़ाज होगा और न ही भयंकर होंगा, न ही वह बाज़रो में चिल्लाएगा, वह कोमल, दयालु, ज्ञानी और बड़ी महानता वाला होगा। मै उसे और उसकी उम्मत को 15 रजब से विशिष्ठ कर दूंगा कि इस तारीख को वो लोग मुझ से जो कुछ भी मांगेगे मै उन्हे वह प्रदान कर दूंगा, वे मुझसे माफ़ी नहीं मांगेंगे, मगर मैं उन्हें माफ़ कर दूंगा, वे मुझसे रिज़्क़ नहीं मांगेंगे, मगर मैं उन्हें रिज़्क़ दे दूंगा। वे अपनी कमियों के लिए माफी नहीं मांगेंगे, मगर मैं उन्हें माफ कर दूंगा और वे मुझसे दया नहीं मांगेंगे मगर मैं उन पर दया की बरसात कर दूंगा।

हे आदम! जो अल्लाह की याद के साथ उपवास की स्थिति में तज़ल्लुल, सत्कार और नमन करे, अपनी पवित्रता और शुद्धता की रक्षा करे, और अपने धन से भिक्षा देता है, तो मेरे पास उसके लिए स्वर्ग के अलावा कोई पुरस्कार नहीं है।

हे आदम, अपनी संतान से कहो रज्जब में अपने नफ़्स को बचा कर रखे क्योकि इस महीने मे पाप और गलती की सजा बहुत गंभीर है।

हौज़ा न्यूज़ हिंदी अपने प्रिय पाठको के लिए अल्लाह से दुआ गो है कि अल्लाह हम सभी को इस महीने के बाकी बचे दिनो मे पाप और गलती करने से दूर रखे। (आमीन)

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
3 + 13 =