۲۰ مرداد ۱۴۰۱ |۱۳ محرم ۱۴۴۴ | Aug 11, 2022
शाबान

हौज़ा / रसूले अल्लाह (स.अ.व.व.)ने एक रिवायत में ।माहे शाबान का नाम शाबान रखने की ओर इशारा किया है

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार , इस रिवायत को "सवाबुल आमाल" पुस्तक से लिया गया है। इस कथन का पाठ इस प्रकार है:
قال رسول اللہ صلی اللہ علیہ وآلہ وسلم

 إنَّما سُمِّيَ شَعبانُ لأِنَّهُ يَتَشَعَّبُ فيهِ أرزاقُ المُؤمِنينَ
रसूले अल्लाह (स.अ.व.व.)ने फरमाया:

शाबान के महीने को "शाबान" नाम दिया गया है क्योंकि इस महीने में  मोमेनीन की रोज़ी तक्सीम होती हैं।


"सवाबुल आमाल पेंज 62

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
2 + 0 =