۲۴ مرداد ۱۴۰۱ |۱۷ محرم ۱۴۴۴ | Aug 15, 2022
दिन की हदीस

हौज़ा/ रसूल अल्लाह (स.ल.व.व)ने एक रिवायत में शिक्षकों और तालीम देने वालों के हक़ में इस तरह दुआ की है।

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार , इस रिवायत को "तारीखे बगदाद" पुस्तक से लिया गया है। इस कथन का पाठ इस प्रकार है:

قال رسول اللہ صلی اللہ علیہ وآلہ وسلم:

اللّهُمَّ اغْفِر لِلمُعَلِّمينَ و أطِل أعمارَهُم و بارِك لَهُم في كَسبِهِم


हज़रत रसूले अकरम (स.ल.व.व) ने फरमाया:
खुदाया! मोअल्लेमीन कि मग़फिरत फरमाए,
उनके जीवन को लम्बा करें, और उनके कस्बों कार में बरकत अता फरमा।


तारीखे बगदाद,भाग 3,पेंज 64

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
5 + 3 =