۲۷ شهریور ۱۴۰۰ |۱۰ صفر ۱۴۴۳ | Sep 18, 2021
आयतुल्लाहिल उज़मा ख़ामेनेई वोट कास्ट करते हुए

हौज़ा / आयतुल्लाहिल उज़मा ने सुबह सात बजे तेहरान स्थित इमाम ख़ुमैनी हुसैनिया में 110 मोबाइल पोलिंग बूथ पर अपना वोट कास्ट करने के बाद चुनाव के दिन को ईरान का राष्ट्रीय दिवस क़रार दिया। उन्होने कहा आईए, पहचानिए, चयन करिए और वोट दीजिए। उनका वोट आने वाले कई वर्षों के लिए ईरान के भविष्य का निर्धारण करेगा।

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी की रिपोर्ट अनुसार,  ईरान में राष्ट्रपति और नगर परिषद के चुनाव के लिए मतदान की शुरूआत में ही शुक्रवार को सुबह सात बजे वरिष्ठ नेता ने तेहरान स्थित इमाम ख़ुमैनी हुसैनिया में 110 मोबाइल पोलिंग बूथ पर अपना वोट कास्ट किया।

आयतुल्लाहिल उज़मा सैय्यद अली ख़ामेनई ने चुनाव के दिन को ईरान का राष्ट्रीय दिवस क़रार देते हुए कहा है कि आज, लोग मर्दे मैदान हैं, क्योंकि वे अपने मताधिकार का प्रयोग करके आने वाले वर्षों के लिए देश की बुनियादी ज़िम्मेदारियों का निर्धारण करेंगे।

इस अवसर पर पत्रकारों से बात करते हुए वरिष्ठ नेता ने कहाः आज का दिन जनता का दिन है, आज रात तक ईरान के लोग अपने मताधिकार का इस्तेमाल करके ईरान के भावी भविष्य के निर्माण में अपनी भमिका निभाएंगे। उनका वोट आने वाले कई वर्षों के लिए ईरान के भविष्य का निर्धारण करेगा। इसी वजह से सभी को इस राष्ट्रीय परीक्षण और इमतेहान में भाग लेना चाहिए।

ईरान की इस्लामी क्रांति के नेता ने ज़ोर देकर कहा कि निश्चित रूप से एक वोट का भी महत्व है, क्योंकि एक एक वोट करके ही करोड़ों लोगों का मत बनता है।

उन्होंने कहा कि हम इसलिए बार बार लोगों से मताधिकार के इस्तेमाल की अपील कर रहे हैं, क्योंकि इसका सबसे पहला असर ख़ुद लोगों पर पड़ता है। हालांकि लोगों की उपस्थिति से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इस्लामी गणतंत्र की साख बढ़ती है।

वरिष्ठ नेता का कहना था कि आईए, पहचानिए, चयन करिए और वोट दीजिए। क्योंकि यह देश और लोगों के भविष्य के लिए महत्वपूर्ण है।

उन्होंने लोगों से सिफ़ारिश करते हुए कहा कि जल्द से जल्द इस महत्वपूरण कार्य को अंजाम दीजिए। जितनी जल्दी हो सके इस ज़िम्मेदारी को अदा करना बेहतर है।

ग़ौरतलब है कि ईरान में 13वें राष्ट्रपति चुनाव के लिए 18 जून को स्थानीय समय के अनुसार, सुबह 7 बजे से मतदान शुरू हो गया, जो कोरोना प्रोटोकोल के मद्देनज़र रात को 12 बजे तक जारी रहेगा।

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
1 + 1 =