۶ تیر ۱۴۰۱ |۲۷ ذیقعدهٔ ۱۴۴۳ | Jun 27, 2022
علامہ اشفاق وحیدی

हौज़ा/ दुनिया में शांति क़ायम करने के लिए सभी देशों को अपनी विदेश नीतियों पर पुनर्विचार करना चाहिए। अगर दुनिया अमन का गहवारा बन गई तो हर आदमी खुशहाल जिंदगी गुज़ारेगा

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार ,मेलबर्न, ऑस्ट्रेलिया में स्थित एक प्रमुख शिया धर्मगुरु अल्लामा अशफ़ाक़ वहीदी ने टिप्पणी करते हुए कहा:दुनिया में अमन क़ायम करने के लिए सभी देशों को अपनी विदेश नीतियों पर पुनर्विचार करना चाहिए। अगर दुनिया अमन का गहवारा बन गई तो हर आदमी खुशहाल जिंदगी गुज़ारेगा।

उन्होंने कहा कि जो राज्य आज आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं, वे क्षेत्र में अस्थिरता और उग्रवाद के कारण हैं। इसलिए संयुक्त राष्ट्र को विश्व में शांति व्यवस्था स्थापित करने में अपनी भूमिका निभानी चाहिए।

अल्लामा ने आगे कहा कि सभी देशों के शासकों को मिलकर ऐसी नीतियां बनाने के लिए काम करना चाहिए जिसमें हर व्यक्ति को उसका अधिकार मिले और उसका जीवन भी खुशहाल बीते, अल्लामा अशफ़ाक़ वहीदी ने कहा कि इस्लाम ने इंसानों के सर्वोत्तम मार्गदर्शन और समृद्धि के लिए एक प्रणाली प्रदान की है जिसमें मानवीय गरिमा की रक्षा की जाती है।

यदि इस्लाम की दुनिया आज अपने सुनहरे वचनों और सिद्धांतों के कारण जीवित है, तो हमें ऐसे सिद्धांतों का पालन करके मजबूत करना चाहिए ताकि सभी देशों के राज्य मैं अमन कायम हो।

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
2 + 1 =