۲۰ مرداد ۱۴۰۱ |۱۳ محرم ۱۴۴۴ | Aug 11, 2022
ब्रिटिश

हौज़ा / ब्रिटिश सांसद नाज़ शाह ने इस देश के राष्ट्रीय प्रतीकों का अपमान करने वालों के ख़िलाफ़ पेश हुए बिल की समीक्षा बैठक में, इस्लाम और पैग़म्बरे इस्लाम के ख़िलाफ़ अपमान रोकने का भी मुद्दा उठाया। इन दिनों ब्रिटेन में पैग़म्बरे इस्लाम और इस्लाम के ख़िलाफ़ अपमान की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं।

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, ब्रिटिश संसद में मुसलमान सांसद नाज़ शाह ने इस देश में इस्लाम और पैग़म्बरे इस्लाम के ख़िलाफ़ अपमान को भी जुर्म क़रार दिए जाने की मांग की।

ब्रिटिश सांसद नाज़ शाह ने इस देश के राष्ट्रीय प्रतीकों का अपमान करने वालों के ख़िलाफ़ पेश हुए बिल की समीक्षा बैठक में, इस्लाम और पैग़म्बरे इस्लाम के ख़िलाफ़ अपमान रोकने का भी मुद्दा उठाया। इन दिनों ब्रिटेन में पैग़म्बरे इस्लाम और इस्लाम के ख़िलाफ़ अपमान की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं।

नाज़ शाह ने इस बैठक में ब्रिटेन में धार्मिक प्रतीकों ख़ास तौर पर पैग़म्बरे इस्लाम के ख़िलाफ़ अपमान को जुर्म की संज्ञा दिए जाने की मांग की।

ब्रिटिश संसद में पैग़म्बरे इस्लाम की तौहीन रोकने की उठी मांग
ब्रिटिश संसद मे तौहीन रिसालत की मांग उठाने वाली सांसद नाज़ शाह

ब्रिटेन, फ़्रांस और जर्मनी सहित यूरोप के कुछ दूसरे देशों में चरमपंथी दक्षिणपंथी गुटों व दलों के तेज़ी से उभरने और लोकाधिकारवादी राजनेताओं की बढ़ती लोकप्रियता के मद्देनज़र, इन देशों में इस्लाम और मुसलमानों के ख़िलाफ़ शाब्दिक व शारीरिक हिंसा बढ़ गयी है।

यूरोप में मुसलमानों के ख़िलाफ़ केस, इस्लामी आस्थाओं के अपमान और मुसलमानों व इस्लाम के ख़िलाफ़ दुष्प्रचार के ज़रिए इस्लामोफ़ोबिया फैलाया जा रहा है जिसका एक नमूना पैग़म्बरे इस्लाम के अपमान में कैरिकेचर का छपना है।

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
5 + 3 =