۸ تیر ۱۴۰۱ |۲۹ ذیقعدهٔ ۱۴۴۳ | Jun 29, 2022
شہید عارف حسین الحسینی

हौज़ा/शहीद आरिफ हुसैन हुसैनी अपने कानून और उसूल में पाबंद थे मुसलमानों के बीच ईमानदारी और एकता उनके व्यक्तित्व के महत्वपूर्ण और प्रमुख पहलू थे,जिसके कारण बहुत ही कम समय में न केवल पाकिस्तान बल्कि दुनिया में एक बेहतरीन आलिमेंदीन के रूप में उनका परिचय हुआ।

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार ,कराची/ जाने माने धार्मिक शिया आलिमेदीन अल्लामा हसन जफर नकवी ने कायदे अल्लामा सैय्यद आरिफ हुसैन अलहुसैनी की पुण्यतिथि के मौके पर जारी अपने बयान में कहा है.कि शहीद आरिफ हुसैन अलहुसैनी एक सर्वांगीण व्यक्तित्व थे, लेकिन मुसलमानों के बीच ईमानदारी और एकता उनके व्यक्तित्व के महत्वपूर्ण और प्रमुख पहलू थे।जिसके कारण बहुत ही कम समय में न केवल पाकिस्तान बल्कि दुनिया में एक बेहतरीन आलिमेंदीन के रूप में उनका परिचय हुआ।
5 अगस्त इतिहास का सबसे काला दिन है जब अल्लामा आरिफ हुसैन अलहुसैनी शहीद हुए थे।
उन्होंने उत्पीड़ितों के लिए आवाज उठाई और एकता के लिए अमूल्य सेवाएं दीं हम आज भी उसी विचार से प्रेरित हैं।
तमाम मुश्किलों के बावजूद संघर्ष जारी रखते हुए शहीद के मानने वालों को चाहिए कि शहीद के बताए हुए कानून और बनाए हुए कानून पर अमल करें और सारी दुनिया में उनकी बात को पहुंचाएं लोगों की ज़िम्मेदारी है शहीद की जिंदगी पर नज़र डालें
और उनके पदचिन्हों पर चलकर पाकिस्तान में वंचित और उत्पीड़ित वर्गों की समस्याओं के समाधान के लिए प्रयास करें।

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
9 + 0 =