۲۹ اردیبهشت ۱۴۰۱ |۱۷ شوال ۱۴۴۳ | May 19, 2022
شیخ احمد القطان روحانی اهل سنت لبنان و رئیس جمعیت "قولنا و العمل"

हौज़ा/शेख अहमद अल-केतान ने कहा कि हमने इमाम हुसैन (अ.स.) की क्रांति से सच्चाई का समर्थन करना और जुल्म करने वालों के खिलाफ खड़ा होना सीखा है।

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार ,लेबनान सुन्नी आलिमेदीन और
जमीयतुल कुलना अलअमल के प्रमुख शेख अहमद ने कहां  कि हमने इमाम हुसैन (अ.स.) की क्रांति से सच्चाई का समर्थन करना और जुल्म करने वालों के खिलाफ खड़ा होना सीखा है।
उन्होंने कहा।"हम लेबनान के अंदर एक क्रूर और बुरी ताकत का सामना कर रहे हैं जिसने हमारी आशाओं और हमारे युवाओं के भविष्य को नष्ट कर दिया है,"
उन्होंने वर्ग और धार्मिक अधिकारों की रक्षा करने का दावा करने वाले व्यक्तिगत हितों और प्राथमिकताओं का पीछा करने वालों की निंदा की।
उन्होंने लेबनान को आपदा से बचाने और मौजूदा संकट से बाहर निकालने के लिए जल्द से जल्द नई सरकार के गठन का आह्वान किया।
आखिर में,लेबनान सुन्नी आलिमेदीन शेख अहमद अल-केतान ने कहां कि
हर हुसैनी को उत्पीड़कों करने वालो के खिलाफ खड़ा होना चाहिए और उत्पीड़क को बताना चाहिए कि आप ज़ुल्म करने वाले के फिलाफ हैं। हमें इन जुल्म करने वालों के खिलाफ एकजुट होने की ज़रूरत है ताकि देश नष्ट न हो।

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
3 + 2 =