۲۶ مهر ۱۴۰۰ |۱۱ ربیع‌الاول ۱۴۴۳ | Oct 18, 2021
مولانا رضی حیدر پھندیڑوی دہلی

हौज़ा / हुज्जतुल इस्लाम मौलाना सैय्यद गाफ़िर रिज़वी ने कहा: फंदेड़ी सादात, अमरोहा जिले के निवासी, एक बहुत ही पवित्र, विनम्र और धर्मपरायण व्यक्ति, मौलाना सैय्यद रज़ी हैदर जै़दी साहब क़िबला और मौलाना शाने हैदर जै़दी साहब क़िबला के पिता आदरणीय श्री सैय्यद अमीर हैदर जै़दी इब्ने सैय्यद तासीर हुसैन जै़दी का आज, शुक्रवार, 10 सितंबर, 2021 को निधन हो गया।

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार ,मौलाना सैय्यद रज़ी हैदर जै़दी साहब क़िबला के पिता के निधन होने पर शोक व्यक्त किया है, हुज्जतुल इस्लाम मौलाना सैय्यद गाफ़िर रिज़वी ने फंदेड़ी सादात, अमरोहा जिले के निवासी, एक बहुत ही पवित्र, विनम्र और धर्मपरायण व्यक्ति, मौलाना सैय्यद रज़ी हैदर जै़दी साहब क़िबला और मौलाना शाने हैदर जै़दी साहिब क़िबला के पिता आदरणीय श्री सैय्यद अमीर हैदर जै़दी इब्ने सैय्यद तासीर हुसैन जै़दी का आज, शुक्रवार, 10 सितंबर, 2021 को निधन हो गया।
मौलाना के पिता मुरादाबाद के एक निजी अस्पताल में भर्ती थे। 15 दिन से दिन बा दिन उनकी हालत गंभीर होती गई और आखिर में वो माबूदे हकीकी से जा मिले, पूरे परिवार को रोता हुआ छोड़ गए।
मौलाना ने आगे कहा: दिवंगत ने अपने दो बच्चों को धार्मिक पढ़ाई से सुशोभित किया, जो उनकी आखेरत के लिए बहतरीन ज़ख़ीरा साबित होगा। तमाम मोमिनीन से निवेदन है कि मरहूम के लिए एक सूरह फातिहा और नमाज़े वहशत पढ़ना ना भूले।
मौलाना ने कहा अल्लाह ताला से हम दुआ करते हैं, अल्लाह तआला मरहूम को जवारे मासूमीन अ.स. मे जगह अता करे मरहूम के दरजात को बुलंद फरमाएं और उनके परिवार वालों को सुख और शांति दें।

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
6 + 3 =