۶ تیر ۱۴۰۱ |۲۷ ذیقعدهٔ ۱۴۴۳ | Jun 27, 2022
علامہ مقصود ڈومکی

हौज़ा/शिक्षा और प्रशिक्षण किसी भी राष्ट्र के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। हमें अपनी युवा पीढ़ी की शिक्षा और प्रशिक्षण से कभी गाफिल नहीं रहना चाहिए,

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार , पाकिस्तान क्वेटा/मदरसा अलमुस्तफा खातमुल अंबिया में अल्लामा मकसूद अली दोमकी की अध्यक्षता में एक कॉन्फ्रेंस आयोजित किया गया

कॉन्फ्रेंस से मौलाना सैफ अली दिलदार हुसैन
सैय्यद गुलाम शब्बीर नक़वी इंजीनियर ईद मुहम्मद डोमकी मौलाना हसन रज़ा ग़दीरी इंजीनियर अकबर अली लशारी मौलाना इरशाद अली सोलंगी वसीम लतीफ मेहर निसार अहमद
वज़ीर अली मशहदी सैय्यद साकिब अली शाह और अन्य ने सभा को संबोधित किया।
कान्फ्रेंस को संबोधित करते हुए मदरसा अलमुस्तफा खातमुल अंबिया के प्रिंसिपल
मजलिसे वहदत मुस्लिमीन पाकिस्तान के केंद्रीय प्रवक्ता अल्लामा मकसूद अली दोमकी ने कहा कि शिक्षा और प्रशिक्षण किसी भी राष्ट्र के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। हमको युवाओं से गाफिल नहीं रहना चाहिए.
उन्होंने कहा कि मजबूत संस्थाएं ही राष्ट्र की मजबूती का कारण होती हैं। इसलिए हम संस्था निर्माण पर ध्यान देना चाहिए  यह कार्यालय महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। हमें अपनी युवा पीढ़ी को धार्मिक और आधुनिक शिक्षा से सजाना है।

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
3 + 0 =