۲۲ مرداد ۱۴۰۱ |۱۵ محرم ۱۴۴۴ | Aug 13, 2022
मौलाना हसन कुमैली

हौज़ा / एक सच्चे प्रेमी को इस बात की परवाह नहीं होती कि कोई उसकी हरकत देख रहा है या नहीं। क्योंकि वह जानता है कि कोई उसे देखे या न देखे, कोई उसे जाने या न जाने, उसका प्रिय उसकी हर क्रिया से अवगत है।

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार अमरोहा मे अरबाईने हुसैनी पर छह अज़ाख़ानो (इमाम बारगाहो) मे मजलिसो का सिलसिला चल रहा है। मोहल्ला दरबार शाह विलायत (लकड़ा) के इमामबारगाह मे जाकिरे अहलेबैत मौलाना हसन कुमैली मजलिसो को संबोधित कर रहे है।

मौलाना कुमैली इश्क़े अहलेबैत और नुसरते दीन के विषय पर मजलिसे पढ़ रहे है। मौलाना कुमैली ने बयान किया कि अहलेबैत में एक प्रेमी के क्या गुण होते हैं और क्या होने चाहिए, एक सच्चा प्रेमी इस बात की परवाह नहीं करता कि कोई उसकी हरकत देख रहा है या नहीं। क्योंकि वह जानता है कि कोई उसे देखे या न देखे, कोई उसे जाने या न जाने, उसका प्रिय उसकी हर क्रिया से अवगत है।

मौलाना कुमेली का कहना है कि एक सच्चा प्रेमी अपने प्रिय के इरादे के अनुसार अपने जीवन को ढाल लेता है। इस्लाम भी एक मोमिन से आशिके इलाही और आशिक़े रसूल और आशिक़े आले रसूल होने का तक़ाज़ा करता है। मजलिस में भी कोरोना गाइडलाइंस का पूरा ख्याल रखा जा रहा है। मजलिसो में बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल हो रहे हैं।

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
1 + 2 =