۴ بهمن ۱۴۰۰ |۲۰ جمادی‌الثانی ۱۴۴۳ | Jan 24, 2022
اسرائیلی وزیر خارجہ کا بحرین کا پہلا سرکاری دورہ

हौज़ा/राजनयिक संबंध स्थापित करने के बाद से इज़रायल के विदेश मंत्री ने बहरैन की अपनी पहली आधिकारिक यात्रा की है,शिया संगठन अलवेफ़ाक के उप महासचिव शेख़ हुसैन अलदेहा ने कहा कि हम इसका कड़ा विरोध करते हैं।

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार ,राजनयिक संबंध स्थापित करने के बाद से इज़रायल के विदेश मंत्री ने बहरैन की अपनी पहली आधिकारिक यात्रा की है,
अल जज़ीरा के अनुसार बहरैन ने पिछले साल इज़राइल को मान्यता दी और उसके साथ राजनयिक संबंध स्थापित कि थी,इज़रायल के विदेश मंत्री यायर लिपिड ने बहरैन के शाह अहमद अल खलीफा के साथ बहरैन में पहले इज़रायली दूतावास का भी उद्घाटन किया था।
बहरैन के विदेश मंत्री अब्दुल लतीफ बिन राशिद जिन्होंने पिछली साल इज़रायल का दौरा किया था,

मनामा हवाई अड्डे पर अपने इज़रायली समकक्ष की अगवानी की, जिसके बाद इज़रायल के विदेश मंत्री ने आर्थिक और सुरक्षा मुद्दों पर चर्चा करने के लिए शाह हम्माद से मुलाकात की दोनों देशों ने ईरान को खतरा बताया। इज़रायल और बहरैन के रक्षा मंत्रियों ने अस्पताल, पानी और बिजली पर विभिन्न समझौतों पर हस्ताक्षर किए।
इस्राइली विदेश मंत्री के दौरे के दौरान मनामा की सड़कों पर भी विरोध प्रदर्शन हुए। इस मौके पर शिया संगठन अलवेफाक के उप महासचिव शेख़ हुसैन अलदेहा ने कहा कि हम बहरीन के लोगों की ओर से इज़रायल के विदेश मंत्री के बहरैन दौरे को पूरी तरह से खारिज करते हैं.

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
4 + 10 =