۱ خرداد ۱۴۰۱ |۲۰ شوال ۱۴۴۳ | May 22, 2022
افریقہ

हौज़ा/ अफ्रीकी पश्चिम में स्थित मुल्क,बर्किना फासु के तेजानी रहनुमा शेख़ अबू बकर ने लंबी बीमारी के बाद निधन कर गए,

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार ,तीजानीया संप्रदाय के नेता शेख़ अबू बकर मेगा का लंबी बीमारी के बाद 74 वर्ष की आयु में निधन हो गया
सरकार ने इस बड़े नुकसान के लिए तीन दिन का शोक और एक दिन का सार्वजनिक अवकाश घोषित किया है.
शेख़ अबू बकर मेगा अफ्रीकी बुजुर्ग उलिमा और तिजानीया संप्रदाय की वह पश्चिम अफ्रीकी देशों के पांच सबसे प्रभावशाली शख्सियतों और राजनेताओं में से एक थे कि जिन्होंने अपनी जिंदगी को इस्लाम के लिए गुज़ारी हैं।

74 साल की उम्र में कैंसर से लंबी लड़ाई के बाद इस दुनिया को अलविदा कह कर दूसरी दुनिया को चल दिए

शेख़ अबू बकर मेगा अफ्रीकी शियों और अहलेबैत अलैहिस्सलाम के वह अनुयायियों में विशेष रूप से रुचि रखते थे
शिया धर्म और तीजानी संप्रदाय के बीच मामूली अंतर के बावजूद, मृतक हमेशा बुर्किना फासो में शिया समारोहों और सभाओं में शामिल होने में सक्षम रहते थे।
उल्लेखनीय है कि अफ्रीका में तीजानी उलिमा और नेता राजनीतिक और सामाजिक प्रभाव के मामले में बहुत प्रभावशाली थे उनकी बहुत सरकारी लेवल से भी बहुत ऊपर तक थी जब किसी का कोई काम होता तो उसके लिए वह हमेशा तैयार रहते थे और बहुत सारे काम उनके आदेशों पर निर्भर थे,

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
7 + 8 =