۱۱ تیر ۱۴۰۱ |۲ ذیحجهٔ ۱۴۴۳ | Jul 2, 2022
ایت الله

हौज़ा/हज़रत आयतुल्लाहिल उज़मा सुब्हानी ने कहा: समाज में बसीज की भूमिका इतनी महत्वपूर्ण है, कि इमामें राहिल ने कहा था है,ए काश मैं भी बसीजी होता-

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार ,हज़रत आयतुल्लाहिल उज़मा सुब्हानी ने ईरानी रज़ाकार फोर्स के अध्यक्ष से मुलाकात,विभिन्न क्षेत्रों में बुनियादी की जागरूकता और सामाजिक भागीदारी बहुत महत्वपूर्ण और निर्णायक थी और उन्होंने कहा:समाज में बसीज की भूमिका इतनी महत्वपूर्ण है,

कि इमामें राहिल ने कहा था है,ए काश मैं भी बसीजी होता-
सभा के शुरू में सरदार सुलेमानी कि एक रिपोर्ट पेश की, जिसमें मसाजिद ने बसीजीयो की शुरुआत की बुनियाद को मजबूत करना हमारी पहली जि़म्मेदारी है,

सांस्कृतिक और स्वाभाविक रूप से बासीजी गतिविधियों को समृद्ध करना,इस्लामिक जीवन शैली और बढ़ती आबादी को बढ़ावा देने पर ध्यान केंद्रित करना, साइबर स्पेस में भूमिका निभाना,शैक्षिक और हुनरी जिहाद में सहयोग करने और आर्थिक और चिकित्सा के मामले में अधिक से अधिक सहयोग देना,

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
4 + 5 =