۵ بهمن ۱۴۰۰ |۲۱ جمادی‌الثانی ۱۴۴۳ | Jan 25, 2022
کلب

हौज़ा/ एफ आई आर दर्ज होने के बाद मौलाना कल्बे जवाद ने कहा: कि वसीम मलऊन मुसलसल इस्लामी मुकद्दसात कि तौहीन कर रहा है,इसको कुछ गुमराह शक्तियों का समर्थन मिल रहा है, उसने पाक पैगंबर के खिलाफ एक पुस्तक में गलत बातों को लिखा है, इस बुक में पैगंबर का अपमान किया है,और उसने मुसलमानों को अपमानजनक शब्द लिखकर भड़काने का प्रयास किया है ,ताकि वे अपनी राजनीतिक हित प्राप्त कर सके

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार ,.गुस्ताखे रसूल स.ल.और कुरआने पाक,वसीम मलउन के खिलाफ मौलाना कल्बे जवाद नकवी के लेखन पर चौक कोतवाली में गंभीर प्रावधानों के तहत एफ आई आर दर्ज कराई गई है,
मौलाना कल्बे जवाद नक़वी ने 16 नवंबर 2021 को बहुत सारे उलिमा इकराम के साथ जाकर चौक कोतवाली में वसीम रूश्दी के खिलाफ लेखन दी थी, जिस पर कोतवाली ने अभी तक एफ आई आर दर्ज नहीं की थी,


23 नवंबर को मौलाना क्लबे जवाद नक़वी की नाराज़गी के बाद कोतवाली ने वसीम रुश्दी के खिलाफ 6 प्रावधानों के तहत मुकदमा दर्ज किया है, वसीम मलऊन के खिलाफ दफा
153-A،292،295-A،504،505(2)، और दफा 67 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है,
एफ आई आर दर्ज होने के बाद मौलाना कल्बे जवाद नक़वी ने कहा: कि वसीम मलऊन मुसलसल इस्लामी मुकद्दसात कि तौहीन कर रहा है,इसको कुछ गुमराह शक्तियों का समर्थन मिल रहा है, उसने पाक पैगंबर के खिलाफ एक पुस्तक में गलत बातों को लिखा है, इस बुक में पैगंबर का अपमान किया है,और उसने मुसलमानों को अपमानजनक शब्द लिखकर भड़काने का प्रयास किया है ,ताकि वे अपनी राजनीतिक हित प्राप्त कर सके

मौलाना ने कहा कि वसीम रूश्दी और उनके समर्थकों ने घटना और ऐतिहासिक तथ्यों के खिलाफ बातें लिखी हैं। इस पुस्तक में अश्लील बात लिख कर पाक पैगंबर की शान में गुस्ताखी की है और हिंदू मुसलमान और शिया और सुन्नी के दरमियान नफरत और फसाद कराने की कोशिश की है, इसके खिलाफ कठोर कार्रवाई होनी चाहिए,


मौलाना ने कहा कि प्रथम सूचना रिपोर्ट को दर्ज करना काफी नहीं है, परन्तु सरकार और प्रशासन को तत्काल उसके खिलाफ कडी कार्रवाई करनी चाहिये और उसे जेल भेज देना चाहिये।

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
3 + 4 =