۱۶ تیر ۱۴۰۱ |۷ ذیحجهٔ ۱۴۴۳ | Jul 7, 2022
جمعہ

हौज़ा/मिस्र के पूर्व मुफ्ती और जामिया अल अज़हर के बड़े उलेमा की अंजुमन के सदस्य अली जुमआ ने मिस्र में सरे मुबारक इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम की उपस्थिति की ओर इशारा किया है।

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार ,मिस्र के पूर्व मुफ्ती और जामिया अल अज़हर के बड़े उलेमा की अंजुमन के सदस्य अली जुमआ ने मिस्र में सरे मुबारक इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम की उपस्थिति की ओर इशारा किया है।


उन्होंने आगे कहा: तारीख लेखकों और रिसर्च वालों का नज़रिया हैं कि कि इमाम हुसैन का जिस्म अतहर को कर्बला में दफनाया गया हैं। जहां उनकी शहादत हुई थी, और उनका सरे मुबारक भी वही जगह दफन किया गया, लेकिन इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम का सरे मुबारक एक शहर से दूसरे शहर तक घुमाया गया दूसरी तारीख में यह कहा गया कि फिलिस्तीन के बंदरगाह और मिस्त्र के और बैतुलट मुकद्दस के नज़दीक अस्कलान के क्षेत्र में दफना दिया गया।


उन्होंने ने अपने फेसबुक के पेंज में,अलमकरीज़ीय,, का हवाला देते हुए कहा:सरे मुबारक को इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम 8 जमदी अलसानी दिशानी 548 हिजरी को काहिरा से ले जाया गया और 1 साल के लिए ज़मुर्रद नामी महल में दफन किया गया, 1 साल के बाद सर को कब्र में दफनाया गया,
अली जुमआ ने आगे कहा कि इस बात पर लोगों का एक नज़रिया है कि इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम का सर अस्कलान से काहिरा पहुंचा, और 10 जमादीयु सानी को इस सर को दफनाया गया,

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
3 + 5 =