۲۴ مرداد ۱۴۰۱ |۱۷ محرم ۱۴۴۴ | Aug 15, 2022
मौलाना

हौज़ा/ हुज्जतुल इस्लाम वल मुस्लिमीन आलम ज़ादे नूरी ने कहा:हम क्रांतिकारी स्तर पर छात्रों को प्रशिक्षित करने की कोशिश कर रहे हैं।क्योंकि इस्लामी क्रांति और इमाम खुमैनी र.ह.की विचारधारा के अनुसार एक छात्र में सभी मानव जाति के गुण मौज़ूद होने चाहिए।

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार ,हौज़ाये इल्मिया
खुजिस्तान के सभ्यता विभाग के उप प्रमुख,हुज्जतुल इस्लाम वल मुस्लिमीन आलम ज़ादे नूरी ने आयतुल्लाह मुसवी जज़ायेरी से मुलाकात में संस्थान ने सभ्यता के उपायों की एक रिपोर्ट प्रस्तुत की और कहा: सभ्यता की संस्था से विद्यार्थियों के नैतिक और प्रशिक्षण की ही नहीं, बल्कि उनका संपूर्ण व्यक्तित्व भी अपेक्षित है।


इस प्रकार इस्लामी क्रांति और इमाम खुमैनी की विचारधारा के अनुसार एक विद्यार्थी के अंदर सभी प्रकार के गुण मौज़ूद हो,

उन्होंने आगे कहा: एक विद्यार्थी को हौज़ाये इल्मिया के परिणाम स्वरूप सभी नैतिक गुणों को प्रतिष्ठित होना चाहिए,इस आधार पर, सभ्यता की संस्था में कई व्यापक कार्यक्रम बनाए गए हैंऔर सभी क्षेत्रों में कार्यान्वित किए गए हैं।खुज़िस्तान इस मैदान में सबसे आगे हैं,


उन्होंने आगे कहा,छात्रों के ज्ञान और एक हद तक शिक्षा और अनुसंधान संस्थान दिया जाना चाहिए, परंतु यह हर विद्यार्थी को जान आदेश देता है कि वह ईमानदार, दयालु और वफादार हो और लोगों की सेवा के लिए हर वक्त तैयार रहे,
हुज्जतुल इस्लाम वल मुस्लिमीन आलम ज़ादे नूरी ने कहां:तीन क्षेत्रों में सभ्यता और संस्थान के मुख्य कार्यक्रमों का वर्णन करते हुए उन्होंने कहा:
अखलाक और तरबीयत,कुरआन और इतरत यह सभी चीज एक छात्र के अंदर मौजूद होना ज़रूरी है जो हर मैदान में उसकी शक्ति को बढ़ाएं

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
3 + 15 =