۳۱ اردیبهشت ۱۴۰۱ |۱۹ شوال ۱۴۴۳ | May 21, 2022
علامہ ساجد نقوی

हौज़ा/ अथॉरिटी और सीरते पैगंबर स.ल.व.व. से एक ऐसा नुस्खा निकाला जाए जिससे समाज से जाहेलीयत को खत्म किया जा सके,

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार , इस्लामाबाद, कायदे मिल्लते जाफरया पाकिस्तान अल्लामा सैय्यद साजिद अली नक़वी कहते हैं कि हज़रत रसूल अल्लाह स.ल.व.व.ने जाहेलियत के रीति-रिवाजों और सिद्धांतों को समाप्त किया, हम लोगों पर भी एक ज़िम्मेदारी है कि समाज में सुधार के लिए कड़ा कदम उठाए
अथॉरिटी और सीरते पैगंबर स.ल.व.व.
से एक ऐसा नुस्खा निकाला जाए जिससे समाज से जाहेलियत को खत्म किया जा सके, समाज में जाहेलियत की वजह से लोग धर्म के सिद्धांत से दूर होते चले जा रहे हैं।


उन्होंने कहा कि सियालकोट में जो हादसा हुआ है यह हादसा चिंताजनक है हर मुल्क में एक आइन के द्वार से कानून चलता है, ऐसे हादसे की सरकार द्वारा मुकम्मल जांच होनी चाहिए और अपराधी को जेल में डाला जाए,लेकिन सियालकोट त्रासदी की पूरी और पूर्ण जांच-पड़ताल होनी चाहिए।


उन्होंने कहा कि ऐसी हालत में समाज में असहिष्णुता, हत्या, आग, अराजकता और हिंसा का कुछ तत्व मौज़ूद है। जो समाज में बुराइयां फैला रहे हैं समाज सुधार के लिए सबको साथ आना होगा और ऐसे लोग के लिए कड़ा कदम उठाना होगा,उग्रवाद को खत्म करने के लिए, विद्वानों, शिक्षकों, मीडिया सहित सभी वर्गों को अपनी भूमिका निभानी होगी।
ताकि देश में सुधार किया जा सके और वास्तव में एक सभ्य राष्ट्र बन सके।

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
8 + 10 =