۱۴ تیر ۱۴۰۱ |۵ ذیحجهٔ ۱۴۴۳ | Jul 5, 2022
آیت

हौज़ा/आयतुल्लाहील उज़मा मकारीम शीराज़ी ने कहां, कुछ लोग कहते हैं कि हम वैक्सीन नहीं लगाएंगे चाहे जो कुछ भी हो जाए हालांकि यह इस्लाम के नज़रिए के खिलाफ है,क्योंकि मनुष्य को अपने स्वास्थ्य और सुरक्षा की रक्षा करनी चाहिए।रिवायत में भी स्वास्थ्य और सुरक्षा पर बहुत ज़ोर दिया गया है।

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार, कोरोना वैक्सीन की तीसरी खुराक लेने के बाद आयतुल्लाहील उज़मा मकारीम शीराज़ी ने अपने बयान को किस प्रकार दिया,
बिस्मिल्लाहिर्रहमानिर्रहीम

डॉक्टरों के निर्देशों का पालन करते हुए कोरोना वैक्सीन की तीसरी खुराक लेनी चाहिए यह ध्यान देना चाहिए कि स्वास्थ्य और सुरक्षा भी नमाज़ की तरह वाजिब है।


उन्होंने आगे कहा कि कुछ लोग कहते हैं कि हम
वैक्सीन नहीं लगाएंगे चाहे जो कुछ भी हो जाए हालांकि यह इस्लाम के नज़रिए के खिलाफ है, क्योंकि मनुष्य को अपने स्वास्थ्य और सुरक्षा की रक्षा करनी चाहिए।रिवायत में भी स्वास्थ्य और सुरक्षा पर बहुत ज़ोर दिया गया है।


उन्होंने अंत में कहा कि डाक्टरों की बात माननी चाहिए और डॉक्टरों के दिशा निर्देश के बाद वैक्सीन लगवाना ज़रूरी है, वैक्सीन लगवाने के बाद खुद की सुरक्षा है और दूसरे लोग भी सुरक्षित रहते हैं, अल्लाह तआला सबको सेहत और सलामती दें और सब सुरक्षित रहें।

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
1 + 12 =