۱۶ تیر ۱۴۰۱ |۷ ذیحجهٔ ۱۴۴۳ | Jul 7, 2022
इजराइली

हौज़ा/इराकी कुर्दिस्तान के शहर अरबील में मोसाद बेस पर हाल के हमले के बाद, बेस के उपयोग के बारे में विभिन्न राज़ सामने आने लगे, इजरायली अधिकारियों की हत्या और घायल अधिकारियों के बारे में उस स्थान के विभिन्न उपयोगों के बारे में कई मत उभरने लगे हैं।

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार ,इराकी कुर्दिस्तान के शहर अरबील में मोसाद बेस पर हाल के हमले के बाद, बेस के उपयोग के बारे में विभिन्न राज़ सामने आने लगे,इजरायली अधिकारियों की हत्या और घायल अधिकारियों के बारे में उस स्थान के विभिन्न उपयोगों के बारे में कई मत उभरने लगे हैं।


कुर्दिस्तान इंटेलिजेंस के एक स्रोत के अनुसार, नागरिक समाज संगठन और इराक में और विशेष रूप से कुर्दिस्तान में अधिकांश सांस्कृतिक केंद्र, वास्तव में इजरायल की खुफिया एजेंसी मोसाद के ठिकाने हैं, और ये संगठन सेमिनार और विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से व्यक्तियों को प्रशिक्षित करते हैं। और फिर इन लोगों को अपने प्रकार से उपयोग करते हैं।


इराकी तंजीमी मुस्लिमीन के संगठन के प्रमुख जब्बार मामुरी के अनुसार, इन व्यक्तियों का उपयोग सैन्य प्रशिक्षण के लिए इराकी प्रतिरोध संगठन हश्शदुश शअबी और अन्य शैक्षणिक और राजनीतिक हस्तियों के कमांडरों को लक्षित करने के लिए किया जा रहा है, साथ ही साथ ईरानी परमाणु वैज्ञानिकों की शहादत मोसाद के पांच अन्य प्रांतों से प्राप्त हुई हैं।

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
1 + 10 =