۲۰ مرداد ۱۴۰۱ |۱۳ محرم ۱۴۴۴ | Aug 11, 2022
अहले सुन्नत

हौज़ा/ईरान के बुशहर में अहले सुन्नत के इमामे जुमआ ने कहा: दुश्मन दहशतगर्दी करके शियाओं और सुन्नियों के बीच मतभेद पैदा नहीं कर सकता हैं।

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार ,ईरान के शहर बुशहर के मदरसे इमाम ख़ुमैनी र.ह. में दीनी विद्यार्थी और ओलेमा ने एक विरोध रैली आयोजित की और कहां इमाम रजा की दरगाह में आतंकवाद की शर्मनाक घटना की निंदा की है।
बुशहर के अहले सुन्नत के आलिमेंदीन ने इस विरोध रैली को संबोधित करते हुए इस दु:खद घटना पर शोक व्यक्त किया और कहां,इस्लाम कि राह में बहने वाला ख़ून का हर कतरा उम्मात को ज़िन्द करने का सबब बनता हैं।


उन्होंने आगे कहा: तकफ़ीरी सोच अज्ञानता और अधर्म का प्रतीक है और जहाँ भी यह सोच मिलती है, उसका परिणाम आतंकवाद और विनाश के अलावा और कुछ नहीं होता है।

बुशहर के अहले सुन्नत के आलिमेंदीन ने कहां:दुश्मन दहशतगर्दी करके शियाओं और सुन्नियों के बीच मतभेद पैदा नहीं कर सकता हैं।
इस विरोध प्रदर्शन की रैली के अंत में दीनी छात्रों और ओलेमा ने हरमें इमाम रज़ा में आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा करते हुए नंदनी बयान जारी किया हैं।

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
3 + 0 =