۲۲ مرداد ۱۴۰۱ |۱۵ محرم ۱۴۴۴ | Aug 13, 2022
انصاف

हौज़ा/इस्लामी क्रांति के सुप्रीम लीडर आयतुल्लाहिल उज़मा सैय्यद अली ख़ामेनेई ने कहां, हर धर्म की बुनियाद इंसाफ पर कायम है सभी धर्मों का खुला हुआ संदेश है कि समाज में इंसाफ के आधार पर हर काम हो

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार ,इस्लामी क्रांति के सुप्रीम लीडर आयतुल्लाहिल उज़मा सैय्यद अली ख़ामेनेई ने कहां,
तमाम धर्मों का बुनियादी लक्ष्य इंसाफ़ क़ायम करना है। अल्लाह फ़रमाता है कि हमने पैग़म्बरों को भेजा, आसमानी ग्रंथ भेजे ‘ताकि लोग इंसाफ़ पर क़ायम हों’ (सूरए हदीद आयत 25)। तो असली लक्ष्य यह था कि लोग न्याय क़ायम करें और समाज इंसाफ़ के आधार पर काम करने वाला समाज बन जाए। हम इन मैदानों में पीछे हैं। काफ़ी कुछ करना है। बड़ी मेहनत करने की ज़रूरत है।


समाज में तभी इंसाफ कायम होगा जब हम दूसरों के साथ इंसाफ करें अगर एक मनुष्य दूसरे से इंसाफ की गुहार लगाता है तो उसके लिए भी ज़रूरी है कि वह दूसरों के साथ इंसाफ करें जब और दूसरों के साथ इंसाफ करेगा तो उसके साथ खुद ब खुद इंसाफ होगा।


इमाम ख़ामेनेई,

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
3 + 9 =