۲۵ مرداد ۱۴۰۱ |۱۸ محرم ۱۴۴۴ | Aug 16, 2022
مولانا سید روح ظفر

हौज़ा/खोजा जामा मस्जिद मुंबई के इमामें जमाअत ने कहां,कि मुसलमानों को भड़काने की नीति अपनाई जा रही हैं, इसलिए हर मुसलमान को यह समझना चाहिए हम अगर कोई क्रोध में फैसला करते हैं तो यानी दुश्मन उससे फायदा उठाएगा और अपने को विजई समझेगा,हमको हर संभव दुश्मन से फायदा उठाना पड़ेगा

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार ,हिंदुस्तान में मौजूदा स्थिति को देखते हुए मुंबई के अंजुमने इस्लाम में एक बैठक हुई, जिसमें राज्य के गणमान्य व्यक्तियों, अधिकारियों और बुद्धिजीवियों ने अपने विचार व्यक्त किए और राज्य स्तर पर एकता उम्मात की स्थापना पर ज़ोर दिया गया हैं।


इस मौके पर इस्लामिक स्कॉलर और उलेमा एकराम और खोजा जामा मस्जिद मुंबई के इमामें जमाअत मौलाना सैय्यद रूहे ज़फर रिज़वी ने कहा कि हमें इस समय सभी तरह के मतभेदों को भूल जाना चाहिए और जागरूक होने की ज़रूरत हैं,उम्मते मुस्लिमा को मौजूदा स्थिति के बारे में आगाह करने की ज़रूरत हैं।


उन्होंने आगे कहा कि मुसलमानों को भड़काने की नीति अपनाई जा रही हैं, इसलिए हर मुसलमान को यह समझना चाहिए हम अगर कोई क्रोध में फैसला करते हैं तो यानी दुश्मन उससे फायदा उठाएगा और अपने को विजई समझेगा,हमको हर संभव दुश्मन से फायदा उठाना पड़ेगा,


मौलाना सैय्यद रूहे ज़फर रिज़वी का कहना था कि मज़लूमित में बहुत ताकत है इसलिए हम सोशल मीडिया का सहारा लेकर मज़लूम पर जहां-जहां जुल्म हो रहा है बस उससे लोगों का आगाह करते रहे मीडिया से भरपूर फायदा उठाएं और जहां तक हो हिंसा से दूरी करें।
अंत में उन्होंने कहा कि अल्लाह तआला पर भरोसा करके, अपनी क्षमताओं और प्रतिभाओं पर भरोसा करें, शांतिपूर्ण तरीके से अपने देश की सेवा करें,केवल राष्ट्रहित के लिए काम करें।

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
2 + 0 =