۲۵ مرداد ۱۴۰۱ |۱۸ محرم ۱۴۴۴ | Aug 16, 2022
दिन की हदीस

हौज़ा/ हज़रत इमाम अली अलैहिस्सलाम ने एक रिवायत में मौत के बारे में एक अहम बिंदु की ओर इशारा किया हैं।

हौज़ा न्यूज़ एजेंसी के अनुसार , इस रिवायत को "उसूले काफी " पुस्तक से लिया गया है। इस रिवायत का पाठ इस प्रकार है:

:قال الامام العلی علیه السلام

ما أنزَلَ المَوتَ حَقَّ مَنزِلَتِهِ مَن عَدَّ غَداً مِن أجَلِهِ؛


हज़रत इमाम अली अलैहिस्सलाम ने फ़रमाया:

जिसने आने वाले कल को अपनी जिंदगी का हिस्सा क़रार दिया उसने मौत को हक़ीक़त को नहीं पहचाना,
उसूले काफी,भाग 3,पेंज 259,हदीस नं 30

لیبلز

تبصرہ ارسال

You are replying to: .
2 + 2 =